International

काबुल में दो बम धमाकों में 19 की मौत, 50 घायल

काबुल : अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में मंगलवार को एक के बाद एक हुए दो शक्तिशाली विस्फोटों में कम से कम 19 लोगों की मौत हो गयी और 50 अन्य घायल हो गये।स्वास्थ्य मंत्रालय ने यह जानकारी दी है। मीडिया रिपोर्ट में इन हमलों को फिदायीन हमले बताया जा रहा है। अपुष्ट मीडिया रिपोर्टों में मृतकों की संख्या 23 बतायी गयी है।गृह मंत्रालय के प्रवक्ता कारी सैयद खोस्ती ने विस्फोट के कुछ ही मिनटों बाद इनकी पुष्टि की और बताया कि कई लोग हताहत हुए हैं हालांकि, उन्होंने कोई और विवरण नहीं दिया।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने अस्पतालों से हताहतों के आंकड़े मिलने के बाद नयी संख्या जारी की है। पहले दिन में मीडिया ने खबर दी थी कि इन धमाकों में 15 लोगों की मौत हो गयी और 34 अन्य घायल हो गये।सोशल मीडिया पोस्ट और मीडिया रिपोर्ट्स में सरदार मोहम्मद दाऊद खान अस्पताल और वजीर अकबर खान अस्पताल के सामने हुए विस्फोटों को ‘फिदायीन हमला’ करार दिया गया है।

घटनास्थल पर मौजूद सूत्रों ने बताया कि विस्फोट स्थल से छोटे हथियारों से गोलीबारी की आवाजें भी सुनी जा सकती हैं।मीडिया रिपोर्ट में पहले बताया गया कि वजीर अकबर खान अस्पताल सहित दो स्थानों पर विस्फोट हुए हैं। बाद में जानकारी दी गयी कि दोनों विस्फोट दाऊद अस्पताल के बाहर हुए। एक प्रत्यक्षदर्शी ने बताया कि सार्वजनिक स्वास्थ्य मंत्रालय के पास 400 बिस्तरों वाले अस्पताल में एक आत्मघाती बम हमला हुआ। यह धमाका सरदार मोहम्मद दाऊद खान अस्पताल के पास हुआ।

सोशल मीडिया पोस्ट में बताया गया है कि तालिबान मीडियाकर्मियों को पीछे धकेल कर हताहतों की रिपोर्ट करने से रोकने का प्रयास कर रहा है।काबुल की तस्वीरों और वीडियो में पूरे इलाके में धुएं का गुब्बार दिखाई दे रहा है। किसी भी समूह ने विस्फोटों की जिम्मेदारी नहीं ली, लेकिन बीबीसी ने अफगानिस्तान की बख्तर समाचार एजेंसी का हवाले से बताया कि इस्लामिक स्टेट समूह के कई आतंकवादी अस्पताल में घुस गये थे और सुरक्षा बलों से भिड़ गये थे।

सरदार दाऊद खान अस्पताल को पहले भी निशाना बनाया जा चुका है। वर्ष 2017 में इसी तरह के हमले में 30 से अधिक लोग मारे गये थे और 50 अन्य घायल हो गये थे, जब बंदूकधारियों ने डॉक्टरों के वेश में अस्पताल पर हमला कर दिया था। उस हमले की जिम्मेदारी इस्लामिक स्टेट समूह ने ली थी।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close